इसरो वैज्ञानिकों की सैलरी में कटौती, केंद्र सरकार के फैसले ने सबको किया हैरान

0
121
इसरो वैज्ञानिकों की सैलरी में कटौती, क्या ऐसे NASA बनेगा ISRO ?

केंद्र सरकार ने इसरो के वैज्ञानिकों की काटी तनख्वाह, अब नहीं मिलेगी प्रोत्साहन राशि

जहां एक और इसरो के वैज्ञानिक एक के बाद एक सफल परिक्षण कर रहे है तो वहीं दूसरी ओर भारत सरकार उनकी सैलरी में कटौती का फरमान जारी कर रही है आपको बता दें कि इसरो के वैज्ञानिक चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग में लगे हैं और दिन रात एक कर रहें है

केंद्र सरकार ने 12 जून 2019 को जारी एक आदेश में कहा है कि इसरो वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को साल 1996 से दो अतिरिक्त वेतन वृद्धि के रूप में मिल रही प्रोत्साहन अनुदान राशि को बंद किया जा रहा है.

जारी किए गए आदेश में लिखा था कि 1 जुलाई 2019 से यह प्रोत्साहन राशि बंद हो जाएगी इस जारी आदेश के बाद इसरो के सभी वैज्ञानिकों की तनख्वाह नहीं काटी जाएगी. इस आदेश से केवल D, E, F और G श्रेणी के वैज्ञानिकों को यह प्रोत्साहन राशि अब नहीं मिलेगी

लेकिन इसरो में करीब 16 हजार वैज्ञानिक और इंजीनियर हैं. लेकिन इस सरकारी आदेश से इसरो के करीब 85 से 90 फीसदी वैज्ञानिकों और इंजीनियरों की तनख्वाह में 8 से 10 हजार रुपए का नुकसान होगा. क्योंकि, ज्यादातर वैज्ञानिक इन्हीं श्रेणियों में आते हैं. जिसे लेकर इसरो वैज्ञानिक नाराज हैं.

ऐसे में आपको बता दें कि इस प्रोत्साहन राशि की शुरुआत सरकार ने उस दौर में शुरु किया था जब वैज्ञानिक इस संस्था को छोड़कर जा रहे थे तब वर्ष 1996 में यह प्रोत्साहन राशि शुरू की गई थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here